सोमवार, फ़रवरी 4

शायर की कहानी

नींद खेले आंखमिचौनी, 
यादें करें मनमानी,
दिल दौड़े दौड़ तूफानी,
सुकून करे आनाकानी,
यही है शायर की कहानी 
शायरी की ज़ुबानी ….
एक टिप्पणी भेजें