गुरुवार, नवंबर 4

इस बार दिवाली तू करना आलोकित हर मन

सभी को दीपावली की शुभकामनायें!

हर साल दिवाली करती है
घर आँगन रौशन  
इस बार दिवाली तू करना    
आलोकित हर मन   

टिमटिमाते दियों से दूर हो
हर अँधियारा 
दमकें जीवन पथ 
जगमगाए जग सारा

 दिवाली, तेरी रौशनी
कोई भेद न करे,
करे रौशन बंगले को और 
झोपड़ी को रोशन करे 

तेरी मिठाई से 
मीठी हो जाए हर जुबां,
सौहार्द और प्रेम से भर दे
हमारी हर शाम ओ सुबह
एक टिप्पणी भेजें